61se8BJjM8L
Price: ₹ 337.00
(as of Apr 08,2021 10:01:58 UTC – Details)

jPjiA4C

CTET /TET – Hindi Bhasha Aur Shikshan Shastra (Varg: I-VIII Hetu)सीटेट के अद्यतन सिलेबस के आधार पर परिवर्द्धित एवं संशोधित हिंदी भाषा और शिक्षण शास्त्र नामक इस पुस्तक के द्वितीय संस्करण में संबंधित परीक्षा के प्रश्नों का गहन निरीक्षण कर इनमें ऐसे महत्वपूर्ण तथ्यों को समाहित करने का प्रयास किया गया है,ताकि अभ्यर्थियों को कोई दिक्कत नहीं हो। इसके प्रत्येक अध्याय में विषयगत तथ्यों के विश्लेषणात्मक विवेचन के साथ -साथ पूर्व वर्षों के पूछे गए प्रश्नों ( सीटेट एवं टेट; 2011से दिसंबर 2018 तक की परीक्षाएं शामिल )के अतिरिक्त मॉडल प्रश्नपत्र भी समाहित किये गए हैं,ताकि अभ्यर्थियों को लगे कि पूर्व वर्ष के सीटेट के प्रश्न एवं हमारे मॉडल प्रश्नों में कोई भिन्नता नहीं है।याद रहे कि इस पुस्तक में निहित विषयगत शिक्षण शास्त्र के मुख्य पहलुओं को स्पष्ट रूप से व करने हेतु हमारे लेखकों ने सीबीएससी( जो देश में सीटेट की परीक्षा का संचालन करती है ) एवं एनसीईआरटी के विषय विशेषज्ञों तथा प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों को प्रशिक्षण देने वाले प्रशिक्षण शालाओं के प्रशिक्षकों से अध्यापन कला/ शिक्षण शास्त्र पर विशेष रूप से राय लेकर उसे अपने शब्दों में समझाने का प्रयास किया गया है,ताकि अभ्यर्थी इस विषयवस्तु को अच्छी तरह समझ कर इसके अंतर्गत पूछे जाने वाले प्रश्नों का सटीक उत्तर बड़ी आसानी से दे सकें।.Bal Vikas Evam Shikshan Vidhi (Class : I –VIII ) for UPTET/UTET/JTET/BTET/MPTET/CGTET/RTET/HTETUptet के अद्यतन सिलेबस के आधार पर प्रस्तुत बाल विकास एवं शिक्षण विधि नामक इस पुस्तक के प्रथम संस्करण में उन सभी तथ्यों को समाहित किया गया है,जो बालकों के विकास के साथ-साथ समावेशी शिक्षा की अवधारणा तथा विशेष आवश्यकता वाले बालकों को समझना और उनके अधिगम एवं अध्यापन की स्थितियों से संदर्भित हों। इस पुस्तक की रचना करते समय इनमें निहित अध्यायों को क्रमबद्ध करते समय मनोविज्ञान की विविध पुस्तकों का अध्ययन कर तथा उसके तथ्यों को UPTET के पूर्व वर्षों की परीक्षाओं में पूछे गए प्रश्नों के अनुरुप व्यवस्थित किया गया है, ताकि अभ्यर्थियों को इसका एहसास हो जाये कि उन्हें इसके लिए कहां तक पढ़ना है। याद रहे कि इस पुस्तक में निहित विषयगत शिक्षण शास्त्र के मुख्य पहलुओं को स्पष्ट रूप से व करने हेतु हमारे लेखकों ने सीबीएससी एवं एनसीईआरटी के विषय विशेषज्ञों तथा प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों को प्रशिक्षण देने वाले प्रशिक्षण शालाओं के प्रशिक्षकों से अध्यापन कला/ शिक्षण शास्त्र पर विशेष रूप से राय लेकर उसे अपने शब्दों में समझाने का इस रूप से प्रयास किया है,ताकि अभ्यर्थी इस विषयवस्तु को अच्छी तरह समझ कर इसके अंतर्गत पूछे जाने वाले प्रश्नों का सटीक उत्तर बड़ी आसानी से दे सकें। key features प्रस्तुत पुस्तक UPTET के अद्यतन सिलेबस के आधार पर लिखी गयी है,जो संबंधित परीक्षा के लिए बेहद उपयोगी साबित होगी प्रस्तुत पुस्तक तीन भागों यथा बालकों का विकास,समावेशी शिक्षा की अवधारणा तथा विशेष आवश्यकता वाले बालकों को समझना एवं अधिगम एवं अध्यापन,में विभाजित है प्रत्येक अध्याय के विषयवार अध्ययन सामग्रियों में परीक्षोपयोगी महत्वपूर्ण तथ्यों को वन लाइनर के रूप में प्रस्तुत किया गया है प्रत्येक अध्याय में अभ्यर्थियों के अभ्यासार्थ दो तरह के प्रश्नों को उनका उचित स्थान दिया गया है जिनमें 2011 से दिसंबर 2018 तक के सीटेट एवं विभिन्न हिंदी भाषी राज्यों के टेट के प्रश्न शामिल हैं UPTET की नवीनतम परीक्षा के अनुरूप पूर्ण रूप से मॉक टेस्ट पेपर्स भी समाहित विषयगत अध्यापन कला/ शिक्षण शास्त्र के चरित्र चित्रण के समय विषय विशेषज्ञों का अटूट सहयोग पुस्तक को प्रस्तुत करते समय इसमें निहित तथ्यों की भाषा शैली को सहज,सरल,स्पष्ट, रुचिकर एवं बोधगम्य बनाने का प्रयास.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *