81OmRu6MbzL
Price: ₹ 162.00
(as of Mar 30,2021 19:23:56 UTC – Details)

jPjiA4C

Product description

देव और भक्ति की बचपन की दोस्ती जब प्यार में बदलती है तभी हैरी नाम की एक बेहद खूबसूरत लड़की दोनों के बीच में आ जाती है(क्यों?)।
अपने प्यार को ढूंढना ही देव की जिंदगी का अब एक मात्र लक्ष्य है-क्योंकि भक्ति कहीं चली जाती है (क्यों?)! दोस्ती, प्रेम, विश्वास, आस्था, श्रद्धा और झूठ-फरेब की राहों से गुजरती हुई ये कहानी कभी आपको रुलाएगी तो कभी आपको अपनी प्रेम-कहानी याद दिलाएगी। और, कभी सोचने पर मजबूर कर देगी कि ऐसा क्यों हुआ! ‘क्यों’ का जवाब जानने के लिए पढ़ें–देव-भक्ति : आस्था का खेल

About the Author

दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट राम ‘पुजारी’ को सामाजिक जनचेतना का लेखक माना जाता है। ‘अधूरा इंसाफ …एक और दामिनी’ और ‘लव जिहाद …एक चिड़िया’ के बाद राम ‘पुजारी’ का यह तीसरा उपन्यास है। अपने लेखन से सामाजिक समस्याओं पर सरल भाषा में सीधा चोट करना उनकी विशेष शैली है।
E-Mail- rampujari2016@gmail.com
Website- www.rampujari.com .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *